Bata kis desh ki company hai और Bata company ka malik kaun hai

हैलो दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है के Bata kis desh ki company hai या bata kahan ki company hai और Bata company ka malik kaun hai इसके बारे मे पूरी जानकारी देंगे तो चलिए आज का ये आर्टिकल सुरू करते है

Bata kis desh ki company hai

क्या आपको पता है के Bata kis desh ki company hai या bata kahan ki company hai तो हम आपको बता दे के Bata Company Czech Republic (चेक रीपब्लिक) नाम के देश से है और इसकी सुरुवात Thomas Bata (थॉमस बाटा) ने 24 August, 1894 मे की थी

Bata company ka malik kaun hai

क्या आपको पता है के Bata company ka malik kaun hai तो बता दे के थॉमस बाटा ने Bata Company की सुरुवात की थी और अब उनकी मौत के बाद अब Bata कंपनी का मालिक बाटा फॅमिली (Bata Family) है

Bata owner name –

Bata के owner का नाम Thomas bata है और इन्होंने Bata Company की सुरुवात 24 August, 1894 मे की थी


दोस्तों थॉमस बाटा का जनम 3 अप्रैल, 1876 मे हुआ था Austria Hungary मे हुआ था जिसे अब Czech Republic कहते है और इन्होंने ही 24 अगस्त, 1894 मे बाटा कंपनी की सुरुवात की थी

— Thomas Bata, Founder of Bata Company

दोस्तों इस तस्वीर मे जो तीन लोग दिख रहे है वो सामने अेेना बाटा, बीच मे थॉमस बाटा, (Right) दाहिने तरफ आन्टोनीन बाटा है ये तीनों भाई बहन है और इन तीनों ने मिलकर बाटा कंपनी की सुरुवात 24 अगस्त, 1894 मे की थी

— 1. Anna Bata 2. Thomas Bata 3. Antonin Bata, Founders of Bata Company


FounderThomas Bata
Founded Year24 August, 1894
Origin CountryCzech Republic
HeadquarterLausanne, Switzerland
ChairmanGraham Allan
CEOSandeep Kataria
OwnerBata Family
Websitewww.bata.com

Bata Company History in Hindi – बाटा कंपनी की हिस्ट्री

बाटा शू कंपनी की स्थापना 24 अगस्त 1894 को ऑस्ट्रिया-हंगरी (आज चेक रीपब्लिक में हुई) के मोरावियन शहर में, टॉमस बाटा और उनके भाई एंटोनिन और उनकी बहन अेेना तीनों ने मिलकर की थी इनका परिवार पीढ़ियों से मोची रहा है कंपनी ने 10 पूर्णकालिक कर्मचारियों को एक निश्चित कार्यसूची और नियमित साप्ताहिक वेतन के साथ नियोजित किया गया था

1895 की गर्मियों में, टॉमस को धन संबंधी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था और इन झटकों को दूर करने के लिए उन्होंने चमड़े के बजाय कैनवास से जूते सिलने का फैसला किया इस प्रकार का जूता बहुत लोकप्रिय हुआ और कंपनी को 50 कर्मचारियों तक बढ़ने में मदद मिली

चार साल बाद, बाटा ने अपनी पहली भाप से चलने वाली मशीनें स्थापित कीं, जो तेजी से आधुनिकीकरण की अवधि शुरू कर रही थीं 1904 में, टॉमस ने अमेरिका में बनने वाली कुछ मशीनों के बारे में एक अखबार में लेख पढ़ा

इसलिए, उन्होंने बड़े पैमाने पर उत्पादन की अमेरिकी प्रणाली का अध्ययन करने और समझने के लिए, तीन वर्कर को लिया और बोस्टन के बाहर एक जूता बनाने वाले शहर लिन की यात्रा के लिए निकाल पडे और छह महीने के बाद वे ज़्लिन लौट आए और उन्होंने मशीनीकृत उत्पादन तकनीकों की शुरुआत की

जिससे बाटा शू कंपनी यूरोप में जूते के पहले बड़े पैमाने पर उत्पादकों में से एक बन गई इसका पहला बड़े पैमाने पर उत्पाद, “बासोवकी”, कामकाजी लोगों के लिए एक चमड़े और कपड़ा जूता था जो इसकी सादगी, शैली, हल्के वजन और सस्ती कीमत के लिए बड़िया साबित हुआ

इसकी सफलता ने कंपनी के विकास को बढ़ावा देने में मदद की और 1908 में एंटोनिन की मृत्यु के बाद, टॉमस ने अपने दो छोटे भाइयों, जान और बोहुस को व्यवसाय में लाया प्रारंभिक निर्यात बिक्री और पहली बिक्री एजेंसियां ​​1909 में जर्मनी में शुरू हुई उसके बाद बाल्कन और मध्य पूर्व में हुई

बाटा के जूते पहले की तुलना में अधिक शैलियों में उपलब्ध थे 1912 तक, बाटा 600+ फूल टाइम वर्कर को रोजगार दे रहा था, साथ ही कई सौ अन्य जो पड़ोसी गांवों में अपने घरों से बाहर काम करते थे उनको भी काम करने का मौका मिला

1914 में, पहले विश्व युद्ध के सुरू होने के साथ, बाटा कंपनी को सेना के आदेशों के कारण बहुत सारे जूते बनाने का ऑर्डर मिला जिसके कारण कंपनी का महत्वपूर्ण विकास हुआ और 1914 से 1918 तक बाटा के कर्मचारियों की संख्या में दस गुना बढ़ गई और साथ ही साथ बाटा कंपनी ने अन्य शहरों के बीच ज़्लिन, प्राग, लिबेरेक, विएना और पिल्सेन में अपने स्टोर खोले गए

पहले विश्व युद्ध के बाद वैश्विक आर्थिक मंदी में, चेकोस्लोवाकिया का नया बना देश विशेष रूप से कठिन चोट पहुची और देश के स्र्पये की क़ीमत 75% कम हो गई, और साथ ही साथ उत्पादों की मांग गिर गई, उत्पादन में कटौती हुई, और बेरोजगारी एक उच्च स्तर पर थी टॉमस बाटा ने बाटा के जूतों की कीमत को आधा करके संकट का जवाब दिया कंपनी के कर्मचारी वेतन में अस्थायी रूप से 40 प्रतिशत की कटौती पर सहमत हुए

बदले में, बाटा ने आधे मूल्य पर भोजन, वस्त्र और अन्य आवश्यकताएं प्रदान कीं और उन्होंने पहली लाभ-साझाकरण पहलों में से एक की शुरुआत की, सभी कर्मचारियों को कंपनी की सफलता में साझा रुचि के साथ सहयोगियों में बदल दिया

कीमतों में गिरावट को लेकर उपभोक्ताओं की प्रतिक्रिया नाटकीय रही जबकि अधिकांश प्रतियोगियों को 1923 और 1925 के बीच मांग में संकट के कारण अपने काम को बंद करने के लिए मजबूर हो गए

और दूसरी और बाटा के बिजनस मे बड़त हो रही थी क्योंकि सस्ते जूतों की मांग तेजी से बढ़ी थी बाटा शू कंपनी ने अपने उत्पादन को बढ़ाया और जादा करमचारी को काम पर रखा गया
और साथ मे ही ज़्लिन एक असली कारखाना शहर बन गया, एक “बाटाविले” जिसमें कई हेक्टेयर शामिल थे

साइट पर टेनरियों, एक ब्रिकयार्ड, एक रासायनिक कारखाना, एक यांत्रिक उपकरण संयंत्र और मरम्मत की दुकान, रबर के उत्पादन के लिए कार्यशालाएं, एक पेपर पल्प और कार्डबोर्ड फैक्ट्री (पैकेजिंग के उत्पादन के लिए), एक कपड़े का कारखाना (जूते के लिए अस्तर के लिए) समूहीकृत थे और जुराबें), एक जूता-चमकाने वाला कारखाना भी था

एक बिजली संयंत्र और भोजन और ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए खेती की गतिविधियाँ बाटा कंपनी के करमचारी और “बाटामेंन” और उनके परिवारों के पास आवास, दुकानों, स्कूलों और अस्पताल सहित सभी आवश्यक रोजाना इस्तेमाल होने वाली सेवाएं उपलब्ध थीं

बाटा कॉर्पोरेशन (मूल रूप से, और चेक रीपब्लिक और स्लोवाकिया में, बाटा के नाम से जाना जाता है) बाटा कॉर्पोरेशन एक चेक बहुराष्ट्रीय जूते और फैशन की निर्माता और रीटेल विक्रेता है, जो आज चेक रीपब्लिक में ज़िलिन शहर में स्थापित है

दूसरे विश्व युद्ध के बाद, समाजवादी राज्यों में इसके कारखानों का राष्ट्रीयकरण कर दिया गया, जबकि पूंजीवादी राज्यों में इसकी शाखाएँ परिवार इसके परिवार के पास है

बाटा कंपनी का मुख्यालय स्विट्जरलैंड के लुसाने में स्थित है इसकी प्रमुख सहायक कंपनियां बाटा यूरोप (ज़्लिन में स्थित), बाटा उत्तरी अमेरिका (टोरंटो में स्थित), बाटा एशिया-प्रशांत-अफ्रीका (सिंगापुर में स्थित) और बाटा लैटिन अमेरिका (मेक्सिको में स्थित) हैं

बाटा का फॅमिली बिजनस, तीन व्यावसायिक इकाइयों में संगठित है बाटा, बाटा इंडस्ट्रियल्स (सुरक्षा जूते) और AW लैब (खेल के जूते) कंपनी मात्रा के हिसाब से दुनिया की अग्रणी शू मेकर है, और इसकी 70 से अधिक देशों में 5,300 से अधिक दुकानों और 18 देशों में उत्पादन सुविधाओं की रीटेल बिजनस है

जूतों की प्रसिद्ध कंपनी बांटा किस देश की है

बाटा कंपनी Czech Republic (चेक रीपब्लिक) नाम के देश से है और इसकी सुरुवात Thomas Bata (थॉमस बाटा) ने 24 August, 1894 मे की थी

Bata Company Ke malik Ka Kya naam hai

बाटा कंपनी सुरुवात (Thomas Bata) थॉमस बाटा ने की थी और अब इसकी मालिक बाटा फॅमिली है

बाटा की स्थापना कब हुई?

24 August, 1894 ज़लिन, चेकिया मे बाटा कंपनी की सुरुवात हुई

Bata company ka malik kaun hai

Bata company ka malik का नाम Thomas Bata थॉमस बाटा है

आज हमने आपको बताया के Bata kis desh ki company hai और इसके बारे मे पूरी जानकारी दी उमीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी

इसी टॉपिक के रिलेटेड आर्टिकल:- Reebok – रीबॉक किस देश की कंपनी है

हैलो मेरा नाम राहुल है और मेे स्टॉक मार्केट और म्यूचूअल फंड के बारे मे जानकारी पढ़ना और लिखना पसंद करता हू अगर आप भी स्टॉक मार्केट और म्यूचूअल फंड के बारे मे जानना चाहते है तो हमारे ब्लॉग Zookart.co पे रोज विज़िट करे