हीरो कंपनी का मालिक कौन है

हैलो दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है हीरो कंपनी का मालिक कौन है और हीरो कंपनी की जानकारी देंगे तो चलिए आज का ये आर्टिकल सुरू करते है

हीरो कंपनी का मालिक कौन है

हीरों कंपनी का मालिक का नाम बृजमोहन लाल था इन्होंने अपने तीन भाइयों दयानंद मुंजाली, सत्यानंद मुंजाल , ओम प्रकाश मुंजाल साथ मिलकर हीरों कंपनी की स्थापना की थी


हीरो कंपनी का मालिक कौन है
Brijmohan Lal Munjal – Founder of Hero

दोस्तों इनका नाम बृजमोहन लाल मुंजल है इनका जनम 1 जुलाई 1923 मे हुआ था और इन्होंने ने ही 19 जनवरी 1984 को Hero कंपनी की सुरुवात की थी

— Brijmohan Lal , Founder of Hero


Pawan Munjal Son of Brijmohan Lall Munjal Chairman MD CEO of Hero
Pawan Munjal – Chairman, MD, CEO of Hero

दोस्तों इनका नाम पवन मुंजल है और इनका जनम 1965 मे हुआ था और ये बृजमोहन लाल मुंजल के बेटे है और अब उनके बाद ये हीरो (Hero) कंपनी के चेयरमैन , मैनिजिंग डायरेक्टर और CEO है

— Pawan Munjal, Chairman, MD, CEO of Hero

हीरो कौन से देश की कंपनी है

हीरो कंपनी भारत की सबसे बड़ी मोटरसाइकिल निर्माता कंपनी है भारत में हीरो होंडा का पहला मेन फैक्चरिंग प्लांट हरियाणा के धारूहेड़ा शहर मैं लगाया था

हीरो और होंडा कब अलग हुआ

हीरो होंडा कंपनी अगस्त 2011 मैं अलग हुए थी लेकिन हीरो होंडा के नाम से 2013 तक मोटरसाइकिल को बेचा गया था

हीरो कंपनी किसकी है

हीरों कंपनी का मालिक का नाम बृजमोहन लाल था इन्होंने अपने तीन भाइयों दयानंद मुंजाली, सत्यानंद मुंजाल, ओम प्रकाश मुंजाल साथ मिलकर हीरों कंपनी की स्थापना की थी

हीरो कंपनी कहा की है

हीरो कंपनी भारत की सबसे बड़ी मोटरसाइकिल निर्माता कंपनी है भारत में हीरो होंडा का पहला मेन फैक्चरिंग प्लांट हरियाणा के धारूहेड़ा शहर मैं लगाया था

हरियाणा में हीरो होंडा मोटरसाइकिल बनाने का कारखाना किस जिले में है

हरियाणा में हीरो होंडा मोटरसाइकिल बनाने का कारखाना रेवाड़ी जिले में स्थित है

हीरो और होंडा अलग क्यों हुए

  1. हीरों कंपनी पहले साइकिल बनाने का काम करती थी और भारत की सबसे बड़ी साइकिल कंपनी थी हीरो कंपनी ने 1984 मैं मोटरसाइकिल का मेन फैक्चरिंग करने के लिए जापान की कंपनी के साथ डील हुई थी
    हीरों और होंडा अलग क्यों हुए

2. पहला कारण हीरों कंपनी जो कि भारत की सबसे बड़ी साइकिल बनाने वाली कंपनी थी जापान की होंडा कंपनी के साथ डील होने के बाद हीरों कंपनी में मोटरसाइकिल के बॉडी बनाईं जाती थी और इंजन जापान की कंपनी होंडा मैं तैयार होते थे कसके बाद इंजन को भारत में भेजा जाता इस डील से हीरो कंपनी को अपनी कमाई का ज्यादा तर हिसा होंडा कंपनी को देना पड़ा था इसे हीरों कंपनी को बहुत नुक्सान हो रहा था

3. दूसरा कारण डील के अनुसार हीरों कंपनी अपने मोटरसाइकिल को भारत के इलावा किसी दूसरी कंट्री में नहीं बेंच सकतीं थीं जिस कारण हीरों कंपनी को बहुत बड़ा नुक़सान हो रहा था

तीसरा कारण यह भी था कि हीरो कंपनी जो अपने मोटरसाइकिल के लिए इंजन जापान की होंडा कंपनी से बनवाती थी उस के बजाय हीरो कंपनी इंजन को अपनी कंपनी में तैयार करना शुरू कर दिया था जिस कारण अब हीरों कंपनी को जापान की होंडा कंपनी की जरूरत नहीं थी जिस वजह से हीरो ने होंडा से अलग होने का फैसला किया

हीरो कंपनी की जानकारी

FounderBrijmohan Lal Munjal
Founded Year19 January 1984
HeadquarterNew Delhi, India
Chairman, MD, & CEOPawan Munjal
Numbers of Employees8,599 in 2020
Websiteheromotocorp.com

हीरो कंपनी हिस्ट्री

हीरो होंडा देश की धड़कन आज के समय में देखा जाए तो हीरो होंडा कंपनी के मोटरसाइकिल हर शहर और हर जगह सबसे ज्यादा देखने को मिलती हैं हीरो होंडा कंपनी के मोटरसाइकिल पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने वाले मोटरसाइकिल है लेकिन किया आप को पता है के हीरो होंडा कंपनी की शुरुआत किसने ओर कब की थी

आज हम आपको इस आर्टिकल में हीरो होंडा कंपनी की शुरू से अब तक की पूरी जानकारी देने वाले हैं हीरो मोटोकार्प कंपनी की शुरुआत भारत देश आजाद होने से पहले हुई थी बृजमोहन लाल मुंजाल ने की थी बृजमोहन लाल मुंजाल का जन्म 1 जुलाई 1923 पाकिस्तान के कमलिया नाम के शहर मैं हूआ उस समय भारत पाकिस्तान का बंटवारा नहीं हुआ था

बंटवारा होने के बाद बृजमोहन लाल मुंजाल जी आपने परिवार को लेकर पंजाब के शहर अमृतसर आ गई उस समय बृजमोहन लाल की उम्र 30 साल थी बृजमोहन लाल ने अपने तीन भाइयों दयानंद मुंजाल, सत्यानंद मुंजाल , ओम प्रकाश मुंजाल के साथ मिलकर अमृतसर में साइकिल के पार्ट बेचने का काम शुरू कर दिया कुछ पैसे इकट्ठे होने के बाद बृजमोहन लाल जी ने लुधियाना में एक छोटी सी हीरो साइकिल कंपनी की शुरुआत की इस कंपनी में साइकिल के कुछ हिस्से बनाई जाते थे

1956 मैं हीरो साइकिल को साइकिल बनाने का सरकार द्वारा लाइसेंस मिल गया इसके बाद हीरो साइकिल अब साइकिल की मेन फैक्चरिंग करना शुरू कर दिया अच्छी क्वालिटी की वजह से हीरो कंपनी में हर साल लगभग 7500 साइकिल बनाने लग गए 1975 के समय हीरो कंपनी भारत की सबसे बड़ी साइकिल कंपनी बन गई और 1986 तक हीरो साइकिल कंपनी पूरी दुनिया में फैल गई

एक रिपोर्ट के मुताबिक हीरो साइकिल हर रोज 20 हजार साइकिल बनाती है इसके बाद हीरो कंपनी ने 1984 मैं मोटरसाइकिल बनाने के लिए जापान की होंडा कंपनी के साथ मिलकर मोटरसाइकिल बनाने का काम शुरू किया भारत में हीरो होंडा का पहला मेन फैक्चरिंग प्लांट हरियाणा के धारूहेड़ा मैं लगाया 13 अप्रैल 1985 को हीरो होंडा CD100 को मार्केट में लॉन्च किया

इस मोटरसाइकिल को लोगों द्वारा बहुत पसंद किया गया हीरो होंडा CD100 एक रिपोर्ट के मुताबिक 1985 से 2003 तक 86 लाख मोटरसाइकिल की बिक्री हो चुकी थी

इस आर्टिकल मे हमने आपको बताया के हीरो कंपनी का मालिक कौन है और हीरो कंपनी की जानकारी दी उमीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी

इसी टॉपिक के रिलेटेड आर्टिकल:- बजाज कंपनी का मालिक कौन है